Operating system kya hai ?

आज के इस पोस्ट में आप जानेंगे की ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है और यह कैसे काम करता है और यह कितने प्रकार का होता है | तो अगर आप इन सभी सबालों के उत्तर ढूंढ रहे थे तब आप बिल्कुल सही जगह पर आए, यहाँ पर हम आपको ऑपरेटिंग सिस्टम से जुडी सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है |

अगर आपको मेरी तरह कंप्यूटर और इंटरनेट से जुडी जानकारी जानना अच्छा लगता है तो आप हमारी कुछ पिछली पोस्ट को भी पढ़ सकते है जिनके अंतर्गत मैंने इन्हीं सब से जुडी जानकारी साझा की है और जिनकी link नीचे दी गई है |

तो चलिए आप सभी का ज्यादा समय व्यर्थ ना गवाते हुए पहले जान लेते है की यह ऑपरेटिंग सिस्टम होता क्या है |



ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है?


ऑपरेटिंग सिस्टम एक सॉफ्टवेयर होता है जो की हमारे कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर से जुड़े रिसोर्सेज को हैंडल करता है और कंप्यूटर को चलाने के लिए कॉमन सर्विसेस प्रोवाइड करता है | ऑपरेटिंग सिस्टम को संक्षिप्त में OS भी कहते है, और ऑपरेटिंग सिस्टम का काम इनपुट और आउटपुट devices को संभालने का होता है|

ऑपरेटिंग सिस्टम यूजर और कंप्यूटर हार्डवेयर के बीच एक इंटरफ़ेस है, और एक ऑपरेटिंग सिस्टम एक सॉफ्टवेयर होता है जो की लगभग सभी basic टास्क परफॉरम कर सकता है जैसे की - फ़ाइल मैनेजमेंट, मेमोरी मैनेजमेंट, प्रोसेस मैनेजमेंट, इनपुट और आउटपुट एवं परिधीय devices जैसे की - डिस्क ड्राइव और प्रिंटर इत्यादि को संभालने का कार्य करता है |

कुछ प्रचलित ऑपरेटिंग सिस्टम के उदाहरण - एंड्राइड, विंडोज, आईओएस, लिनक्स, मैक ओ एस इत्यादि |



ऑपरेटिंग सिस्टम काम कैसे करता है?


एक ऑपरेटिंग सिस्टम काम कैसे करता है इसे समझने के लिए चलिए एक उदाहरण का उपयोग करते हैं जिससे आपको ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में समझने में आसानी होगी | 

यह बात तो हम सभी जानते हैं की कंप्यूटर 010101 अर्थात binary भाषा को समझता है | और आप और हम हिन्दी या कोई अन्य भाषा समझते या बोलते हैं | अब अगर हमें कंप्यूटर से कुछ काम करवाना है तो हमें उसे command देना पड़ेगा की यह फ़ाइल open करो | परन्तु अगर आप उसे यह command हिन्दी या english या फिर किसी अन्य भाषा में देंगें तो उसे यह समझते नहीं आएगा |

और वह कुछ भी नहीं करेगा, और अगर आपको कम्प्यूटर से कुछ काम करवाना है तो आपको उसे binary भाषा में इंस्ट्रक्शन देने पड़ेंगे | तभी वह उस काम को करेगा| परन्तु अब हर कोई तो यह भाषा नहीं समझ सकता है |

और इसी प्रॉब्लम को सोल्वे करने और कम्प्यूटर को सभी के लिए उपयोग बनाने के लिए कम्प्यूटर साइंटिस्ट ने ऑपरेटिंग सिस्टम का निर्माण किया है |

ऑपरेटिंग सिस्टम एक सॉफ्टवेयर है जो की आपसे आपकी भाषा हिन्दी या english में command को लेता है, और कंप्यूटर को उसकी भाषा यानि 010101 में समझाता है, और इस तरह से ऑपरेटिंग सिस्टम यूजर और कम्प्यूटर हार्डवेयर के मध्य एक ट्रांसलेटर या फिर गाइड का काम करता है | 

आप जब कोई भी कंप्यूटर या लैपटॉप को खरीदते है तब उसमें बाई default कंपनी की तरफ से एक ऑपरेटिंग सिस्टम प्रोवाइड किया जाता है | और आप चाहे तो बाद में आप उस ऑपरेटिंग सिस्टम को चेंज कर सकते है |


conclusion


मुझे उम्मीद है कि आपको आज के इस पोस्ट के माध्यम से शेयर कि गई जानकारी पसंद आई होगी, अगर आपको यह जानकारी पसंद आए तो इसे शेयर करिए और कमेंट करके बताए कि आपको यह पोस्ट कैसा लगा |

Post a Comment

Previous Post Next Post